Current Affairs February 23, 2018

Current-Affairs-February-23-2018

Current Affairs February 23, 2018 को सभी अखबारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड का अध्ययन कर तैयार किया गया है। यह जानकारी पाठक को UPSC, SSC, Banking, Railway और अन्य सभी प्रतियोगिता परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन में सहायक होगी।

परियोजना डिजिटलीकरण

उत्तर प्रदेश देश का प्रथम राज्य बन गया, जहां परियोजना को पूर्णतया डिजिटल रूप में संपादित किया जाता है।

इस पूरी प्रक्रिया के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने एक “डिजिटल मित्र” नामक डिजिटल मंच को प्रारंभ किया, जो एकल खिड़की निकासी प्रणाली के रूप में काम करेगा।

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रक्रिया के तहत राज्य के 20 विभागों को समायोजित किया है। जिसके तहत आवश्यक दस्तावेजों को वेबसाइट के माध्यम से प्रस्तुत किया जाएगा। प्रमाण पत्र और दस्तावेज संबंधित विभाग के पुनर्मूल्यांकन के उपरांत डिजिटल रूप में संपादित किए जाएंगे। जिसमें मानव त्रुटि की संभावनाओं को कम किया जा सकेगा।

हमें ध्यान देना चाहिए कि वर्तमान समय में “डिजिटल मित्र” नामक परियोजना “उद्योग बंधु” नामक परियोजना के स्थान पर प्रारंभ की गई है।

Source: Newsfeed


बुंदेलखंड में 200 अरब रुपये के रक्षा औद्योगिक कॉरिडोर की स्थापना

21 फरवरी 2018 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुंदेलखंड में 200 अरब रुपए की लागत से रक्षा औद्योगिक उत्पादन कॉरिडोर स्थापित करने की घोषणा की गई। यह औद्योगिक कॉरिडोर केंद्रीय बजट में प्रस्तावित सुरक्षा औद्योगिक उत्पादन कार्य दोनों में से एक है।

यह औद्योगिक कॉरिडोर आगरा, अलीगढ़, लखनऊ, कानपुर, झांसी और चित्रकूट से जुड़ा होगा। बुंदेलखंड उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के बीच स्थित एक क्षेत्र है।

यह औद्योगिक कॉरिडोर चेन्नई और बेंगलुरु के बीच प्रस्तावित रक्षा औद्योगिक कॉरिडोर के क्रम में घोषित किया गया है, चेन्नई और बेंगलुरु के बीच प्रस्तावित रक्षा औद्योगिक कॉरिडोर कट्टप्पल्ली बंदरगाह, चेन्नई, तिरुचिरापल्ली, कोयम्बटूर और होसूर से जुड़ा होगा।

Source: Economictimes


वाईएच मालेगाम समिति : गंभीर ऋण की निगरानी

भारतीय रिजर्व बैंक ने गंभीर ऋण की निगरानी के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया।

यह विशेषज्ञ समिति भारतीय रिजर्व बैंक के केंद्रीय निर्देशक मंडल के पूर्व सदस्य वाईएच मालेगाम की अध्यक्षता में गठित की गई। यह समिति खराब ऋणों के वर्गीकरण, धोखाधड़ियों की बढ़ती घटनाओं और लेखापरीक्षाओं की प्रभावशीलता से संबंधित कई मुद्दों पर अपनी विस्तृत रिपोर्ट आरबीआई को प्रस्तुत करेगी।

इस समिति के अन्य सदस्य भरत दोशी – भारतीय रिजर्व बैंक के केंद्रीय बोर्ड के सदस्य, एस रमन – केनरा बैंक के पूर्व अध्यक्ष, ए के मिश्रा – आरबीआई के कार्यकारी निदेशक समिति के सदस्य सचिव और नंदकुमार सरवाडे – रिज़र्व बैंक सूचना प्रौद्योगिकी प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी है।

यह समिति विचलन और धोखाधड़ी को कम करने में बैंकों में आयोजित विभिन्न प्रकार की ऑडिट की भूमिका और प्रभावशीलता की जांच भी करेगी।


Source: The Hindu


मेक इन इंडिया: उच्च हार्स पावर लोकोमोटिव्स इंजन

23 फरवरी 2018 को भारतीय रेलवे ने पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप के तहत 2 उच्च हॉर्स पावर लोकोमोटिव इंजन कमीशन किए।

यह उच्च हॉर्स पावर लोकोमोटिव इंजन M/s General Electric द्वारा निर्मित किए गए हैं। जिन्हें मेक इन इंडिया कार्यक्रम के अंतर्गत विकसित किया गया। M/s General Electric अमेरिका स्थित बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसमें कुल 13,000 करोड़ों रुपए का निवेश किया है जिसमें 26% भारतीय रेलवे की हिस्सेदारी है।

यह भारतीय रेलवे की प्रथम पूरी तरह से डिजिटल लोकोमोटिव इंजन है, जो अधिक विश्वसनीयता रखरखाव और उपलब्धता के साथ सेवाएं देंगे।

यह चार स्ट्रोक इंजन, 12 सिलेंडर, 06 ट्रैक्शन मोटर्स, एसी ड्यूल कैब लोकोमोटिव स्वयं भार, शौचालय सुविधा, अपग्रेड कंप्यूटर नियंत्रित ब्रेकिंग (सीसीबी सिस्टम), इलेक्ट्रॉनिक ईंधन इंजेक्शन सिस्टम से लैस है।

M/s General Electric भारतीय रेलवे को संयुक्त उपक्रम के माध्यम से 2025 तक 1000 ईंधन कुशल इंजनों (100 प्रति वर्ष) की आपूर्ति करेगी।

प्रारंभ में 40 ईंधन कुशल डीजल इंजनों का निर्माण पेनसिल्वेनिया, संयुक्त राज्य अमेरिका में किया जाएगा और शेष 960 डीजल इंजनों का निर्माण मारहोत्रा, सरण जिला, बिहार में किया जाएगा। यह कारखाना अक्टूबर 2018 से लोको निर्माण शुरू करेगा।

Source: PIB


रस बनारस संस्कृति महोत्सव

22 फरवरी 2018 को केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा सांस्कृतिक महोत्सव “रस बनारस संस्कृति महोत्सव” का आयोजन वाराणसी में किया गया।

यह महोत्सव वाराणसी में स्वच्छता के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से आयोजित किया गया है, जिसमें विभिन्न लोक नृत्य के माध्यम से स्वच्छता के बारे में बताया गया।

इस महोत्सव में मनमंदिर घाट पर राष्ट्रीय अभिलेखागार द्वारा रेजर प्रदर्शनी को चित्रित किया गया।

Source: PIB