World’s First White Tiger Safari in Madhya Pradesh

World-First-White-Tiger-Safari

व्हाइट टाइगर सफारी:

दुनिया का पहला व्हाइट टाइगर सफारी, मध्य प्रदेश के सतना जिले के मुकुंदपुर में खोला जा रहा है। 2 अप्रैल 2016 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसे जनता के लिए खोल दिया। यह 25 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला हुआ है। इसे बनाने में 50 करोड़ रुपये की लागत आई है।

  • इस व्हाइट टाइगर सफारी में ‘विंध्य और राधा’ नामक दो महिला बाघिन और एक पुरुष बाघ ‘रघु’ शामिल है।
  • मध्य प्रदेश में 1915 के दशक में पहली बार सफेद बाघ विंध्य क्षेत्र में देखा गया था, हालांकि इस दुर्लभ नस्ल के सफेद बाघ की वर्ष 1920 में मृत्यु हो गई थी।
  • वर्ष 1951 में, मोहन नामक एक सफेद बाघ शावक को रीवा महाराजा मार्तंड सिंह ने पकडा था। बाद में यही शावक दुनिया के सभी ज्ञात सफेद बाघों के प्रजनन का कारण बना।
  • इसी क्रम में सरकार पास ही के गोविंदगढ़ में सफेद बाघों के प्रजनन के लिए एक केंद्र स्थापित करने की योजना बना रही है।
  • इस व्हाइट टाइगर सफारी के लिए सफेद बाघ विंध्य और दो भालूओं को भोपाल से स्थापित किया गया था।