Nasofilters: नेसों फिल्टर

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली के वैज्ञानिकों ने उपकरण ‘नेसों फिल्टर/ Nasofilters’ विकसित किया है जो 95% धूल और वायु प्रदूषक को सीमित करने में सक्षम है। यह फिल्टर ₹10 मूल्य का विश्व का सबसे सस्ता नेसों फिल्टर है। इस परियोजना में शामिल शोधकर्ताओं को हाल ही में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी द्वारा “राष्ट्रीय स्टार्टअप अवार्ड्स” के साथ सम्मानित किया गया था।

मुख्य विशेषताएं:

नसोफिल्टर एक अविश्वसनीय फिल्टर तकनीक का प्रयोग करता है जो बारीक कण प्रदूषक के लिए, विशेष रूप से पीएम 2.5 एकाग्रता से सुरक्षा प्रदान करता है। यह कम से कम आठ घंटे तक सुरक्षा प्रदान करता है और इसलिए श्वसन रोगों के जोखिम को कम करने में मदद करता है। डिवाइस में लाखों छोटे आकार के छिद्र है जो उच्च दक्षता वाले बहुत छोटे कणों को कैप्चर करने में सक्षम एक पतली लचीला झिल्ली बनाता है। फिल्टर का डिजाइन अच्छा है, सांस और आराम प्रदान करता है। यह फ़िल्टर उपयोगकर्ता के नाक छिदों के साथ टकराता है और पीएम 2.5 कणों, बैक्टीरिया और पराग एलर्जी जैसे विदेशी कण पदार्थों के प्रवेश को रोकता है।

Read More

eVIN परियोजना

India’s electronic vaccine intelligence network (eVIN) भारत की एक स्वदेश विकसित तकनीक प्रणाली है. हाल ही में 5 देशों फिलीपींस, इंडोनेशिया, बांग्लादेश, नेपाल और थाईलैंड ने इस परियोजना को अपनाने संबंधी इच्छा जाहिर की है.

eVIN परियोजना के संबंध में:

इस परियोजना के तहत टीके के स्टॉक का डिजिटाइजेशन किया जाता है.

इस स्मार्टफोन एप्लीकेशन के माध्यम से टीके के तापमान पर नजर रखे जाते हैं.

यह तकनीक वर्तमान समय में भारत के 12 राज्यों में प्रभावी है.

इस परियोजना का मुख्य उद्देश्य राज्य के चिकित्सा विभाग द्वारा वैक्सिंग के भंडार और प्रवाह पर वास्तविक समय की जानकारी प्राप्त करना और भंडारण तापमान को नियंत्रित करना है.

यह भारत के सार्वभौमिक टीकाकरण कार्यक्रम को आगे बढ़ाने में काफी सहयोग प्रदान करता है.

हमें ध्यान देना चाहिए कि यह परियोजना संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम द्वारा लागू की जा रही है.

Read More