महाराष्ट्र का प्रथम स्वचालित मौसम स्टेशन

1 मई 2017 को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने नागपुर के डोंगरगांव में राज्य का प्रथम स्वचालित मौसम स्टेशन का उद्घाटन किया। महाराष्ट्र सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2017-18 में सार्वजनिक निजी साझेदारी मोड में लगभग 2,065 मौसम स्टेशन स्थापित करने का लक्ष्य रखा है। यह मौसम स्टेशन मौसम की स्थिति, हवा की दिशा, हवा की गति, हवा का तापमान, सापेक्षिक आद्रता और रिकॉर्ड वर्षा की मात्रा को मापने में भी सहायक होगा। मौसम स्टेशन द्वारा इकट्ठी की गई जानकारी महाराष्ट्र कृषि मौसम सूचना नेटवर्क के साथ साथ स्काइमेट के मोबाइल एप्लीकेशन पर उपलब्ध करा कर किसानों के बीच साझा की जाएगी।

स्काइमेट, मौसम पूर्वानुमान फर्म स्केमैट वेदर प्राइवेट लिमिटेड द्वारा तैयार मोबाइल एप्लीकेशन है। स्केमैट वेदर प्राइवेट लिमिटेड (एडब्ल्यूएस) राज्य सरकार को मौसम स्टेशन स्थापित करने में सहायक निजी कंपनी है।

महत्व:

यह स्वचालित मौसम स्टेशन राज्य के किसानों को मौसम की स्थिति के अनुसार बेहतर और नियोजित तरीके से बुवाई का प्रबंधन करने की जानकारी उपलब्ध कराएंगे। मौसम पूर्वानुमान स्टेशनों को लगभग 12 × 12 किमी के क्षेत्र में स्थापित किया जाएगा जो सूक्ष्म-स्तर पर मौसम पूर्वानुमान उपलब्ध कराएगा। इसके अलावा, हर ग्राम पंचायत में मौसम संबंधी जानकारी और किसानों के लिए फसल के पैटर्न पर विशेषज्ञ सलाह देने के लिए डिजिटल कियोस्क स्थापित किए जाएंगे। पहले चरण के दौरान, एसएमएस का उपयोग करके जानकारी साझा की जाएगी। दूसरे चरण में, सभी ग्राम पंचायतों को अर्ध घंटा अद्यतन प्रदान किए जाएंगे। एडब्ल्यूएस के सेंसर तापमान, सापेक्ष आर्द्रता, हवा की गति और दिशा, वर्षा, सौर विकिरण, पत्ती की नमी, मिट्टी की नमी और तापमान और वायुमंडलीय दबाव और बाष्पीकरण के लिए महत्वपूर्ण मानदंडों को रिकॉर्ड करने में सक्षम होंगे।

राज्य सरकार एडब्ल्यूएस द्वारा दिए गए आंकड़ों का उपयोग करने की योजना बना रही है, ताकि स्थान-विशिष्ट कृषि परामर्श, बेहतर आपदा प्रबंधन, डिजाइन फसल बीमा योजना तैयार की जा सके और मौसम डेटाबेस बैंक स्थापित किया जा सके।

Read More