Current Affairs April 9, 2018

Current-Affairs-April-9-2018

Current Affairs April 9, 2018 को सभी अखबारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड का अध्ययन कर तैयार किया गया है। यह जानकारी पाठक को UPSC, SSC, Banking, Railway और अन्य सभी प्रतियोगिता परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन में सहायक होगी।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 14 स्टेरॉयड क्रीम की खुली बिक्री पर रोक

केंद्रीय परिवार और स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय 14 स्टेरॉयड क्रीम के ओवर द काउंटर बिक्री पर प्रतिबंध लगाने संबंधी आदेश जारी किए, यद्यपि यह क्रीम डॉक्टर की पर्ची के आधार पर बेची जा सकेगी। यह प्रतिबंध “ड्रग्स एंड कॉस्मेटिक नियम 1945 की अनुसूची-H” के तहत लगाया गया है।

यह निर्णय केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने ड्रग टेक्निकल एडवाइजरी बोर्ड की सिफारिशों के आधार पर लिया जिसने बिना पर्ची के इन क्रीमों की बिक्री पर प्रतिबंध की सिफारिश की थी। वर्तमान समय में भारत में प्रतिबंधित स्टेरॉयड क्रीम बीक्लोमेथासोन, डोनोनिड, एल्क्लेमेटासोन और फ्लूसीिनोनाइड हैं।

ड्रग्स तकनीकी सलाहकार बोर्ड (DTAB)

DTAB देश में दवाओं से संबंधित तकनीकी मामलों पर उच्चतम वैधानिक निर्णय लेने वाला संगठन है। यह औषधि और प्रसाधन सामग्री अधिनियम, 1 9 40 के अनुसार गठित है। यह स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय में केंद्रीय औषध मानक नियंत्रण संगठन का हिस्सा है।

एच ड्रग्स

एच औषधि और प्रसाधन सामग्री नियम, 1945 के तहत सूचीबद्ध दवाओं का एक वर्ग है, जो भारत में सभी दवाओं के निर्माण और बिक्री को नियंत्रित करता है। इन दवाओं को काउंटर पर योग्य डॉक्टर के पर्चे के बिना खरीदा नहीं जा सकता है। यह सूची DTAB की सलाह पर समय-समय पर संशोधित होती है।

Source: The Hindu


रक्सौल-काठमांडू रेलवे लिंक परियोजना

केंद्र सरकार ने बिहार के रक्सौल और नेपाल के काठमांडू के बीच सामरिक “रक्सौल-काठमांडू रेलवे लिंक परियोजना” को सहमति प्रदान की। यह रेलवे लिंक परियोजना दोनों देशों के संपर्क और सामानों के थोक आवागमन की सुविधा को ओर अधिक बेहतर बनाएगा।

परियोजना के महत्वपूर्ण तथ्य:

1) रक्सौल-काठमांडू रेलवे लिंक परियोजना के तहत विद्युतीकरण कार्य का वित्तपोषण भारत द्वारा किया जाएगा।

2) इस परियोजना के क्रियान्वयन हेतु 1 वर्ष के भीतर सर्वेक्षण कार्य पूर्ण कर विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की जाएगी।

3) केंद्र सरकार का फैसला वर्ष 2016 में चीन और नेपाल के मध्य रेलवे लिंक परियोजना से संबंध रखता है, जिसका उद्देश्य नेपाल की पारगमन कनेक्टिविटी के लिए भारतीय निर्भरता को कम करना था।

वर्तमान समय में भारत और नेपाल के मध्य तीन अन्य रेल परियोजना “नौतनवा-भैरहावा, न्यू जलपाईगुड़ी-काकरभिटा और नेपालगुनज रोड- नेपालगंज” निर्माणाधीन है।

Source: Business Standard


वाल्मिकी और मल्हार: 2 अज्ञात भाषाएं

हैदराबाद विश्वविद्यालय के भाषाविद ने दो लुप्तप्राय भाषाओं वल्मिकी और मल्हार की खोज की है। यह वल्मिकी और मल्हार मुख्यतः ओडिशा के दूरदराज के इलाकों में बोली जाने वाली भाषा है। इस संबंध में प्रोफेसर पंचानन मोहंती ने प्राप्त आंकड़ों और प्रारंभिक विश्लेषणों को एक्सएक्स वार्षिक सम्मेलन ऑफ़ एंड फाउंडेशन फॉर फाउंडेशन लैंग्वेज लैंग्वेज, यूके की कार्यवाही में प्रकाशित किया।

मुख्य तथ्य

वाल्मिकी भाषा : यह ओडिशा के कोरापुट में और आंध्र प्रदेश के सीमावर्ती जिलों में बोली जाती है। यह एक अलग भाषा है और वह किसी विशेष भाषा के परिवार से संबंधित नहीं है। यह भाषा महान भारतीय संत-कवी वाल्मीकि से संबंधित होने का दावा किया जा रहा है जिन्होंने रामायण का संस्करण लिखा था।

मल्हार: यह भुवनेश्वर, ओडिशा से करीब 165 किमी दूर एक दूरदराज गांव में बोली जाती है। अब यह 75 लोगों द्वारा बोली जाने वाली एक सामुदायिक भाषा है। यह “द्रविड़ परिवार के उत्तर द्रविड़िया उप समूह भाषा” से संबंधित है। यह भाषा प्रथम दृष्टया झारखंड, पश्चिम बंगाल और बिहार में बोली जाने वाली माल्टो और कुरुक्स जैसे अन्य उत्तर द्रविड़ भाषाओं के साथ घनिष्ठ संबंध हैं।

Source: Hindustan Times 


गंगा हरितमा (गंगा हरियाली) योजना

उत्तर प्रदेश सरकार ने गंगा नदी के तट पर स्थित राज्य के 27 जिलों में गंगा हरितमा योजना (गंगा हरियाली योजना) का शुभारंभ किया। यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गंगा, यमुना और पौराणिक सरस्वती की नदियों के संगम तट पर संगठित समारोह में द्वारा लॉन्च किया गया था।

इस योजना का उद्देश्य गंगा नदी के जल ग्रहण क्षेत्र और भूमि क्षरण को नियंत्रित करने के लिए वृक्षारोपण को बढ़ावा देना है। इस परियोजना के तहत नदी तट के किनारे से 1 किलोमीटर के क्षेत्र में वृक्षारोपण किया जाएगा। जिसके हेतु “एक व्यक्ति एक वृक्ष” का नारा देखकर निजी जमीन पर वृक्षारोपण के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया जाएगा। इस योजना के लिए वन विभाग को नोडल एजेंसी के रूप में नामित किया गया है।


मिथिला चित्रकला से मधुबनी रेलवे स्टेशन का कायापलट

भारतीय रेलवे ने एक अनूठी पहल के तहत स्थानीय कलाकारों के सहयोग से मिथिला चित्रकला का प्रदर्शन किया। जिसमें स्थानीय कलाकारों ने 2 महीने के कार्यकाल में मधुबनी रेलवे स्टेशन के 14000 वर्ग फुट से अधिक रेलवे स्टेशन दीवार पर मधुबनी चित्रकला का कार्य पूर्ण किया। यह कार्य 225 से अधिक कलाकारों द्वारा स्वेच्छा से किया गया।

मिथिला पेंटिंग

मिथिला चित्रकला, भारत के मिथिला क्षेत्र (विशेषकर बिहार) और नेपाल में प्रचलित लोक चित्रकला है। इसे मधुबनी चित्रों के रूप में भी जाना जाता है, जिसका अर्थ है ‘शहद का जंगल‘। इसका उल्लेख रामायण जैसे प्राचीन भारतीय ग्रंथों में किया गया है। यह चित्रकला प्रारंभिक तौर पर बिहार के मैथिली नामक छोटे से गांव में बनती थी जिसमें ग्रामीण महिलाएं अपने घरों की ताजा दीवारों पर चित्रकला के लिए चावल के पेस्ट का उपयोग करती थी। वर्तमान समय में यह चित्रकला शादी और उत्सव जैसे विशेष आयोजनों में उपयोग में ली जाने लगी। इस चित्रकला हेतु चावल के पेस्ट सब्जियों और पौधों से प्राप्त रंगों का इस्तेमाल किया जाता है। मिथिला पेंटिंग की विभिन्न शैलियों में भनी, तांत्रिक, कछ्नी, गोदाणा और कोहबर शामिल हैं, जो ऐतिहासिक रूप से जाति व्यवस्था में महिलाओं द्वारा चित्रित किए जाते थे।

हमें ध्यान देना चाहिए कि मिथिला चित्रकला को भौगोलिक संकेतांक के रूप में मान्यता प्राप्त है।

Source: Business Standard 


असम स्प्रिंग महोत्सव का आयोजन मानस नेशनल पार्क

8 अप्रैल 2018 को मानस नेशनल पार्क में दो दिवसीय असम स्प्रिंग महोत्सव का आयोजन किया गया। यह महोत्सव भारतीय वर्सेस एसोसिएशन और स्वंकर मिठाईंग ओन्साई अफत द्वारा संयुक्त रुप से आयोजित किया गया है।

इस महोत्सव का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र के स्थानीय भोजन और संस्कृति को बढ़ावा देना।

खाद्य हथकरघा और संस्कृति के माध्यम से वैकल्पिक आजीविका का प्रयास करना।

मानस राष्ट्रीय उद्यान भारत का एक प्रमुख राष्ट्रीय उद्यान है, जो कि असम राज्य में यूनेस्को प्राकृतिक विश्व धरोहर स्थल के रूप में मान्यता रखता है। यह उद्यान एक सींग वाले गैंडे और बारहसिंघा के लिए विशेष रूप से महत्व रखता है। इस उद्यान में स्तनधारियों की 55, पक्षियों की 380, सरीसृपों की 50 और उभयचर की 3 प्रजातियां निवास करती है।

Source: Business Standard 

Related Post

Seema Charan

I am a House wife & I love to post Current Affairs Article & Objective Question Answers of GK in Hindi for Students. Hope You Like it. Don't Forget to Share Them.