Current Affairs April 25, 2018

Current-Affairs-April-25-2018

Current Affairs April 25, 2018 को सभी अखबारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड का अध्ययन कर तैयार किया गया है। यह जानकारी पाठक को UPSC, SSC, Banking, Railway और अन्य सभी प्रतियोगिता परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन में सहायक होगी।

पुर्नगठित राष्ट्रीय बांस मिशन

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति ने 14वें वित्त आयोग (2018-19 तथा 2019-20) की शेष अवधि के दौरान सतत कृषि के लिए राष्ट्रीय मिशन (एनएमएसए) के अंतर्गत केन्द्र प्रायोजित राष्ट्रीय बांस मिशन (एनबीएम) को स्वीकृति दे दी है। मिशन सम्पूर्ण मूल्य श्रृंखला बनाकर और उत्पादकों (किसानों) का उद्योग के साथ कारगर संपर्क स्थापित करके बांस क्षेत्र का सम्पूर्ण विकास सुनिश्चित करेगा।

व्ययः

14वें वित्त आयोग (2018-19 तथा 2019-20) की शेष अवधि के दौरान मिशन लागू करने के लिए 1290 करोड़ रुपये का (केन्द्रीय हिस्से के रूप में 950 करोड़ रुपये के साथ) प्रावधान किया गया है।

पृष्ठभूमिः

राष्ट्रीय बांस मिशन (एनबीएम) केन्द्र प्रायोजित योजना के रूप में 2006-07 में प्रारंभ किया गया। मिशन का बल मुख्य रूप से बांस के प्रचार और उत्पादन पर था और प्रसंस्करण, उत्पाद विकास तथा मूल्यवर्धन पर सीमित प्रयास किए गए थे। पुर्नगठित प्रस्ताव गुणवत्ता सम्पन्न पौधारोपण के प्रचार, उत्पाद विकास तथा मूल्यवर्धन पर एक साथ बल देता है। इसमें प्राथमिक प्रसंस्करण और शोधन, सूक्ष्म, लघु और मझौले उद्यम, उच्च मूल्य के उत्पाद, बाजार और कौशल विकास शामिल है। इस तरह इसमें बांस क्षेत्र के विकास के लिए सम्पूर्ण मूल्य श्रृंखला बनाने पर बल दिया गया है।

Source: PIB


समावेशी परियोजना के लिए भारत में नवाचार

‘समावेशी परियोजना के लिए भारत में नवाचार’ हेतु 125 मिलियन अमेरिकी डॉलर (समतुल्‍य) के आईबीआरडी ऋण के लिए 24 अप्रैल, 2018 को नई दिल्‍ली में विश्‍व बैंक के साथ एक समझौते पर हस्‍ताक्षर किए गए।

इस परियोजना का उद्देश्‍य समावेशी विकास के साथ-साथ भारत में प्रतिस्‍पर्धी क्षमता को भी बढ़ाने के उद्देश्‍य से किफायती एवं अभिनव स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल उत्‍पादों के सृजन को बढ़ावा देने के लिए स्‍वदेशी नवाचार को बढ़ावा देना, स्‍थानीय उत्‍पादों के विकास को प्रोत्‍साहित करना और कौशल एवं बुनियादी सुविधाओं में महत्‍वपूर्ण खाई को पाटकर वाणिज्यीकरण प्रक्रिया में तेजी लाना है। इस परियोजना के तहत सार्वजनिक, निजी और शैक्षणिक संस्‍थानों के समूह (कंसोर्टियम) को आवश्‍यक सहायता प्रदान की जाएगी, ताकि उन अहम बाजार विफलताओं से पार पाया जा सके जो फिलहाल भारत में एक अभिनव जैव-फार्मास्‍यूटिकल एवं चिकित्‍सा उपकरण उद्योग के विकास को अवरुद्ध कर रही हैं।

इस परियोजना के निम्‍नलिखित हिस्‍से हैं:

I. ‘पायलट परियोजना से लेकर बाजार में पेश करने’ के अभिनव तंत्र को सुदृढ़ करना

II. विशिष्‍ट उत्‍पादों के लिए ‘पायलट परियोजना से लेकर बाजार में पेश करने’ की प्रक्रिया में तेजी लाना

III. परियोजना प्रबंधन और निगरानी एवं मूल्‍यांकन

‘समावेशी परियोजना के लिए भारत में नवाचार’ की समाप्ति की तिथि 30 जून, 2023 है।

Source: PIB


आंध्र प्रदेश साइबर सुरक्षा संचालन केंद्र

23 अप्रैल 2018 को आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने अमरवती में आंध्र प्रदेश साइबर सुरक्षा संचालन केंद्र (APCSOC) का उद्घाटन किया।

APCSOC आंध्र प्रदेश सूचना प्रौद्योगिकी, इलेक्ट्रॉनिक्स और संचार मंत्रालय द्वारा की गई एक पहल है।

यह संचालन केंद्र एक मिश्रित सुरक्षा एनालिटिक्स प्लेटफ़ॉर्म है, जो डेटा की भारी मात्रा में निवेश, सहसंबंध और विश्लेषण करता है।

यह केंद्र सर्वोत्तम प्रथाओं और ढांचे को फ्रेम संचालन केंद्र करने के लिए प्राइसवाटरहाउस कूपर्स नामक कंपनी की सेवाएं ली जाएगी।

Source: Business-Standard 


विश्व लैब पशु दिवस: 24 अप्रैल

24 अप्रैल 2018 को, विश्व लैब पशु दिवस अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आयोजित किया जाता है।

यह दिवस 1979 में ब्रिटिश नेशनल एंटी-विविसेक्शन सोसाइटी (NAVS) द्वारा प्रयोगशाला पशु के लिए विश्व दिवस के रूप में घोषित किया गया था।

यह दिवस ब्रिटिश नेशनल एंटी-विविसेक्शन सोसाइटी के प्रथम अध्यक्ष ह्यूग डॉउडिंग के जन्मदिवस के उपलक्ष्य में आयोजित किया जाता है।

यह दिवस मुख्यतः प्रयोगशालाओं में पशुओं के प्रतारण को रोकने के लिए आयोजित किया जाता है।

Source: Wiki 

Seema Charan

I am a House wife & I love to post Current Affairs Article & Objective Question Answers of GK in Hindi for Students. Hope You Like it. Don't Forget to Share Them.