Current Affairs April 2, 2018

Current-Affairs-April-2-2018

Current Affairs April 2, 2018 को सभी अखबारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड का अध्ययन कर तैयार किया गया है। यह जानकारी पाठक को UPSC, SSC, Banking, Railway और अन्य सभी प्रतियोगिता परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन में सहायक होगी।

तियांगोंग -1: अनियंत्रित चीनी अंतरिक्ष प्रयोगशाला

2 अप्रैल 2018 को अनियंत्रित चीनी अंतरिक्ष प्रयोगशाला “तियांगोंग -1” ने पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश किया। इस प्रयोगशाला को दक्षिणी प्रशांत महासागरीय क्षेत्र के मध्य स्थित “अंतरिक्षयान कब्रिस्तान” स्थान पर उतारा जाना प्रस्तावित है। अंतरिक्ष यान कब्रिस्तान को पॉइंट नीमो के रूप में भी जाना जाता है – पृथ्वी पर सबसे दूरदराज स्थान माना जाता है (भूमि के किसी भी स्थान से करीब 2400 किमी)। यह अक्सर दुर्घटनाग्रस्त भू-भाग उपग्रहों के लिए उपयोग किया जाता था। वर्ष 1971 और मध्य 2016 के बीच, दुनिया भर में अंतरिक्ष एजेंसियों ने क्षेत्र में 260 से 300 अंतरिक्ष यान के बीच उतारे गए हैं।

Tiangong-1 प्रथम चीनी प्रोटोटाइप स्पेस स्टेशन या अंतरिक्ष प्रयोगशाला हैं। इसे सितंबर 2011 में कक्षा में अपनी स्वतंत्र अंतरिक्ष स्टेशन के निर्माण के लिए चीन के प्रयासों के तहत स्वतंत्र और किसी भी अन्य अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष-सक्रिय देशों के साथ असंबद्ध होने के रूप में स्थापित किया गया था। इसका वजन 8,506 किलोग्राम था और इसकी लंबाई 10.4 मीटर और व्यास 3.35 मीटर थी।

Source: The Hindu


उड़ीसा स्थापना दिवस: 1 अप्रैल

राष्ट्रीय स्तर पर 1 अप्रैल को प्रतिवर्ष उड़ीसा स्थापना दिवस के रूप में आयोजित किया जाता है। यह दिवस उड़ीसा में उत्कल दिवस (Utkal Dibasa or Utkal Divas) के नाम से भी जाना जाता है। यह दिवस 1 अप्रैल 1936 को ओडिशा को एक अलग प्रांत के रूप में मान्यता प्रदान करने के उपलक्ष्य में आयोजित किया जाता है। हमें ध्यान देना चाहिए कि 9 नवंबर 2010 को भारतीय संसद में Orissa को (Odisha) उड़ीसा और ओरिया भाषा को उड़िया भाषा के रूप में मान्यता प्रदान की।

Source: PIB


रूपश्री योजना: पश्चिमी बंगाल सरकार द्वारा गरीब बालिकाओं की शादी हेतु

युवा महिलाओं के लिए सुरक्षित भविष्य सुनिश्चित करने के लिए, पश्चिम बंगाल सरकार ने “रुपश्री” नामक एक योजना शुरू की है। इस योजना के तहत सरकार गरीब लड़कियों के विवाह के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

मुख्य विशेषताएं:

इस योजना के तहत शादी से पहले 25,000 रुपये की राशि लड़की के बैंक खाते में जमा की जाएगी।

एक महिला को अपनी शादी से पहले आवेदन पत्र भरने और रुपश्री के तहत लाभ लेने के लिए ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर या नगर पालिका कार्यालय के कार्यालय में जमा करना आवश्यक है।

इससे पूर्व कन्याश्री योजना महिलाओं के बीच शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए पश्चिमी बंगाल सरकार द्वारा प्रारंभ की गई थी।

पात्रता:

लाभार्थी को पश्चिम बंगाल का स्थायी निवासी होना चाहिए
शादी के समय महिलाएं 18 वर्ष से अधिक आयु होनी चाहिए।
परिवार की वार्षिक आय 1.5 लाख से कम होनी चाहिए।
इस योजना के लिए आवेदन करने के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता की आवश्यकता नहीं है।

इस योजना के तहत आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग से लगभग छह लाख महिलाओं को लाभ होगा, जिसमें परिवार की वार्षिक आय रुपए से अधिक नहीं होगी।

Source: Business Standard


नेपाल का प्रथम “सुलभ पर्यटन” ट्रेक:

सुलभ पर्यटन” पर तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन में, नेपाल ने पोखरा शहर में विकलांग और बुजुर्गों के लिए अपना प्रथम सुलभ ट्रेकिंग पॉइंट सेवा का शुभारंभ किया।

29 मार्च से 31 मार्च 2018 तक नेपाल में तीन दिवसीय सुलभ पर्यटन सम्मेलन का आयोजन किया गया। यह ट्रेक, सरांगकोट को नाउदांद क्षेत्रों से जोड़ने वाली रिज में 14 किमी लंबी पैदल यात्रा के रास्ते में 1.3 किलोमीटर का बनाया गया है। ट्रेक माउंट के अनगिनत दृश्य प्रदान करता है। यह ट्रेक अन्नपूर्णा, फिस्टलेट और मानसल्लू निशान को उचित साइनेज और वॉशरूम से सुसज्जित किया गया है।

Source: The Hindu


भारत: विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल निर्माता देश

भारतीय सेलुलर एसोसिएशन द्वारा जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2017 में भारत ने वियतनाम को पछाड़ते हुए, मोबाइल उत्पादन के क्षेत्र में विश्व का दूसरा सबसे बड़ा मोबाइल निर्माता देश बन गया।

रिपोर्ट के महत्वपूर्ण तथ्य:

वर्तमान में, दुनिया भर में मोबाइल उत्पादन में चीन नंबर एक है।

शीर्ष तीन मोबाइल उत्पादक देश चीन, भारत और वियतनाम हैं।

वर्ष 2014 में मोबाइल फोन का सालाना उत्पादन 30 लाख यूनिट से बढ़कर 2017 में 11 मिलियन यूनिट से बढ़ गया।

मोबाइल फोन उत्पादन में वृद्धि के साथ, देश में उपकरणों का आयात भी 2017-18 में आधे से भी कम हो जाएगा।

हमें ध्यान देना चाहिए कि केंद्र सरकार इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय के तहत फास्ट ट्रैक टास्क फोर्स (एफटीटीएफ) की स्थापना की है, जिसने 2019 तक भारत में 500 मिलियन मोबाइल फोन उत्पादन हासिल करने का लक्ष्य रखा है।

Source: Economic Times


भारत स्टेज 6 इंधन सेवा प्रारंभ करने वाला दिल्ली देश का प्रथम राज्य

दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में वायु प्रदूषण के बढ़ते स्तर से मुकाबला करने के उद्देश्य से अल्ट्रा-क्लीन भारत स्टेज (बीएस) 6 ग्रेड ईंधन (पेट्रोल और डीजल दोनों) की आपूर्ति प्रारंभ की गई, जो दिल्ली को भारत स्टेज 6 सेवा प्रारंभ करने वाला देश का प्रथम राज्य बनाता है। सरकारी स्वामित्व वाली तेल कंपनियों ने एनसीटी में अपने सभी 391 पेट्रोल पंपों पर बीएस -6 ईंधन (यूरो-वीस उत्सर्जन मानदंड के बराबर) की आपूर्ति शुरू कर दी है।

अक्टूबर 2016 में केंद्र सरकार ने बीएस-4 से सीधे बीएस-6 को वर्ष 2020 तक प्रभावी रूप से लागू करने संबंधी फैसला किया था। यह फैसला दिल्ली में उच्च स्तर के वायु प्रदूषण के कारण वर्ष 2018 से प्रभावित किया गया है, जिससे सर्दियों के मौसम में मोटी जहरीली धुंध का सामना ना करना पड़े। यह वायु में उपस्थित कार्बन की मात्रा को नियंत्रित करने और पर्यावरण को स्वस्थ बनाने के उद्देश्य से ईंधन दक्षता में सुधार के लिए प्रयासों को प्रदर्शित करता है।

बीएस -4 ईंधन के लाभ:

वर्तमान बीएस -4 और नए बीएस-6 ऑटो ईंधन नियमों के बीच के मानकों में बड़ा अंतर सल्फर की उपस्थिति है। बीएस -4 ईंधन में 50 भाग प्रति मिलियन (पीपीएम) सल्फर होता है, जबकि बीएस-5 और बीएस-6 ग्रेड ईंधन में 10 पीपीएम सल्फर होता है। इससे डीजल कारों से नाइट्रोजन ऑक्साइड का उत्सर्जन लगभग 70% और कारों से 25% पेट्रोल इंजन से उत्सर्जन कम होगा। यह 80% तक अभूतपूर्व डीजल इंजन कारों से कण उत्सर्जन के कारण फैल रहे कैंसर रोग की संख्या को कम करेगा।

Source: Times of India


Related Post

Seema Charan

I am a House wife & I love to post Current Affairs Article & Objective Question Answers of GK in Hindi for Students. Hope You Like it. Don't Forget to Share Them.