Current Affairs March 26, 2018

Current-Affairs-March-26-2018

Current Affairs March 26, 2018 को सभी अखबारों जैसे द हिंदू, द इकोनॉमिक टाइम्स, प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस और बिजनेस स्टैंडर्ड का अध्ययन कर तैयार किया गया है। यह जानकारी पाठक को UPSC, SSC, Banking, Railway और अन्य सभी प्रतियोगिता परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन में सहायक होगी।

वाराणसी एकीकृत बिजली विकास योजना “वायरलेस”

पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री पीयूष गोयल द्वारा जून 2015 में वाराणसी के लिए भूमिगत केबल कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया था। इस कार्यक्रम के तहत कुल 432 करोड़ों रुपए मूल्य से 16 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में भूमिगत विद्युत लाइनों को डाला गया। वाराणसी को विद्युत आपूर्ति के 86 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष पर ओवरहेड बिजली खंबे से मुक्त करने के उद्देश्य से वाराणसी एकीकृत बिजली विकास योजना का शुभारंभ किया गया था। इस कार्यक्रम के तहत भारत सरकार के पावर ग्रिड उपक्रम को 50,000 से अधिक उपभोक्ताओं के लिए केबल बिछाने का कार्य प्रदान किया गया।

Source: TimesofIndia


भारत: विश्व का तीसरा सबसे बड़ा विद्युत उत्पादक देश

वाणिज्य मंत्रालय द्वारा स्थापित इंडिया ब्रांड इक्विटी फाउंडेशन 30 फरवरी 2018 के रिपोर्ट के अनुसार अप्रैल 2017 से जनवरी 2018 तक भारत में कुल विद्युत उत्पादन 1,003.525 अरब यूनिट रहा। इस रिपोर्ट में चीन को 6015 अरब यूनिट के साथ प्रथम स्थान पर रखा गया, जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका को 4327 यूनिट के साथ द्वितीय स्थान प्रदान किया गया।

इस रिपोर्ट के अनुसार भारत में पिछले 7 वर्ष की तुलना में अप्रैल 2017 से जनवरी 2018 तक 34% अधिक विद्युत उत्पादन किया गया, जिसके कारण भारत के विद्युत उत्पादन में 8% से 27% तक बढ़ोतरी दर्ज की गई। हमें ध्यान देना चाहिए कि जनवरी 2018 तक भारत ने कुल 334.4 गीगावॉट विद्युत क्षमता स्थापित की जो इसे यूरोपीय संघ, चीन, अमेरिका और जापान के बाद दुनिया में पांचवी सबसे बड़ी विद्युत उत्पादन क्षमता है।

Source: Business Standard

ब्रैज़ाविली घोषणा पत्र: विश्व के सबसे बड़े उष्णकटिबंधीय पेटलैंड क्षेत्र के लिए

विश्व के सबसे बड़े उष्णकटिबंधीय पेटलैंड कांगो बेसिन स्थित “क्यूवेट सेंट्रल क्षेत्र” के अनियमित भूमि उपयोग और जल निकासी को रोकने के लिए ब्रैज़ाविली घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर किए गए। ब्रैज़ाविली कांगो गणराज्य की राजधानी है, जो कांगो नदी के उत्तर की ओर बसा हुआ है।

पेटलैंड: वह झील होती है, जिनमें जैविक सामग्री के नुस्खे होते हैं। यह मुख्यता आंशिक रूप से पानी की परत में डूबे हुए ऑक्सीजन की कमी के कारण बनते हैं। यह विश्व स्तर पर महत्वपूर्ण कार्बन क्षेत्र है, जो नियमित कार्बन शोषण कार्यक्रम के कारण क्षतिग्रस्त हो सकता है। कांगो बेसिन में क्यूवेट सेंट्रल क्षेत्र दुनिया के सबसे बड़े प्राकृतिक उष्णकटिबंधीय पेटलैंड हैं, जो इंग्लैंड के आकार के हैं। यह वैश्विक ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन के बराबर तीन साल का भंडार करता है।

ब्रैज़ाविली घोषणा पत्र का उद्देश्य पेटलैंड पारिस्थितिकी तंत्र की रक्षा के लिए विभिन्न सरकारी क्षेत्रों के बीच समन्वय और सहयोग को कार्यान्वित करना है।

Source: Unenvironment


Biennale: नई दिल्ली में आयोजित प्रथम अंतर्राष्ट्रीय ग्राफिक प्रिंट कार्यक्रम

26 मार्च 2018 को नई दिल्ली में प्रथम अंतर्राष्ट्रीय ग्राफिक प्रिंट कार्यक्रम Biennale का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम ललित कला अकादमी द्वारा आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में भारतीय और अंतरराष्ट्रीय कलाकारों ने दोस्तों ग्राफिक्स प्रिंटर का प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शनी के लिए ललित कला अकादमी को कुल 988 प्रविष्ठियां प्राप्त हुई थी, जिनमें से 127 प्रविष्टियों को प्रदर्शित किया गया।

ललित कला अकादमी को नेशनल एकेडमी ऑफ आर्ट के रूप में भी जाना जाता है, जिसकी स्थापना वर्ष 1954 में एक स्वायत्त संगठन के रूप में भारतीय कला को बढ़ावा देने और प्रचार करने के उद्देश्य से स्थापित की गई थी। यह अकादमी संस्कृति मंत्रालय द्वारा वित्त पोषित है और इसका मुख्यालय रविंद्र भवन नई दिल्ली में है।

Source: PIB


25 मार्च: गुलामी और दास व्यापार पीड़ितों के स्मरण का अंतर्राष्ट्रीय दिवस

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिवर्ष 25 मार्च को गुलामी के शिकार और ट्रान्साटलांटिक (Transatlantic) दास व्यापार पीड़ितों को स्मरण करने के लिए “Remembrance of the Victims of Slavery and the Transatlantic Slave Trade” का आयोजन किया जाता है। वर्ष 2018 में आयोजित दिवस का विषय “Remember Slavery: Triumphs and Struggles for Freedom and Equality” है। यह दिवस मुख्यता अफ्रीकी मूल के नागरिकों द्वारा स्वतंत्रता और समानता के अधिकार के रूप में आयोजित किया जाता है।

हमें ध्यान देना चाहिए कि वर्ष 2007 में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गुलामी के शिकार नागरिकों को याद करने के लिए प्रथम अंतर्राष्ट्रीय वर्ष 2008 में मनाया जाना प्रस्तावित किया था। इस कार्यक्रम का उद्देश्य साल भर में शैक्षिक गतिविधियों के आयोजन में नस्लवाद और पूर्वाभ्यास के खतरों के बारे में जागरूकता
बढ़ाना है।
Source: UN News


जे एस राजपूत: यूनेस्को कार्यकारी बोर्ड में भारतीय प्रतिनिधि के रूप में नियुक्त

केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने पूर्व NCERT के निर्देशक और पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित जे एस राजपूत को संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) के कार्यकारी बोर्ड में भारतीय प्रतिनिधि के रूप में नियुक्त किया। इस नियुक्ति से पूर्व श्री जे एस राजपूत प्रोफेसर एनसीईआरटी 1974, संयुक्त शैक्षणिक सलाहकार और शिक्षक शिक्षा परिषद के अध्यक्ष 1994-99 के रूप में अपनी सेवाएं दे चुके हैं। यूनेस्को द्वारा वर्ष 2004 में शोध और नवाचार में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रतिष्ठित “Jan Amos Comenius” के लिए चुना गया था, जबकि शिक्षा में आजीवन योगदान के लिए मध्यप्रदेश सरकार द्वारा उन्हें महर्षि वेदव्यास राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। श्री राजपूत को वर्ष 2009 में पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

यूनेस्को कार्यकारी बोर्ड यूनेस्को के संविधानिक अंगों में से एक है और इसे जनरल कांफ्रेंस द्वारा चुना जाता है। इसमें कुल 58 सीटें 4 वर्ष के कार्यकाल के लिए चयनित की जाती है। यह बोर्ड मुख्यत यूनेस्को के कार्य और आवश्यक बजट की जांच का कार्य करता है।

Source: TimesofIndia


विश्व का सबसे बड़ा क्रूज जहाज ‘सिम्फनी ऑफ द सीज’

26 मार्च 2018 को विश्व का सबसे बड़ा पुल जहाज ‘सिम्फनी ऑफ द सीज‘ भूमध्य सागर में अपनी प्रथम यात्रा शुरू करने के लिए फ्रांस में सैंट-नजैर के शिपयार्ड से बाहर निकाला गया। यह जहाज फ्रांसीसी जहाज निर्माता एसटीएक्स ने अमेरिकी दिग्गज रॉयल कैरेबियन इंटरनेशनल के लिए तैयार किया है। यह जहाज कुल 2,28,000 टन वजनी है और 362 मीटर लंबा है, यह अपने समकक्ष साथी जहाज ‘हार्मनी ऑफ द सीज‘ से थोड़ा सा ही बड़ा है, जिसे एसटीएक्स फ्रांस ने 2016 में रॉयल कैरेबियन के लिए तैयार किया था।

Source: Traveller

Seema Charan

I am a House wife & I love to post Current Affairs Article & Objective Question Answers of GK in Hindi for Students. Hope You Like it. Don't Forget to Share Them.